हिंदी
Login Sign Up
English-Hindi > blasphemy

blasphemy meaning in Hindi

sound:  
noun plural: blasphemies   
blasphemy sentence in Hindi
TranslationMobile
Noun
• निन्दा
• ईश्वर निन्दा
• ईश-निन्दा
• ईश निंदाआ

• ईश-निंदा
• ईशनिंदा
• ईश्वर
• ईश्‍वरनिंदा
• धर्मनिंदा
• धर्मनिन्दा
Examples
1.Daler Mehndi thought he had another hit on his hands ; the Mumbai-based Raza Academy , self-styled defenders of Islam , screamed blasphemy .
भावनाओं का मामल दलेर मेहंदी को लग रहा था कि उनका एक और गाना हिट होने वाल है तभी इस्लम के एक स्वयंभू रक्षक , मुंबई की रज़ा एकेड़मी ने धर्मनिंदा का राग अलपना शुरू कर दिया .

2.The challenge ahead is clear: Muslims must emulate their fellow monotheists by modernizing their religion with regard to slavery, interest and much else. No more fighting jihad to impose Muslim rule. No more endorsement of suicide terrorism. No more second-class citizenship for non-Muslims. No more death penalty for adultery or “honor” killings of women. No more death sentences for blasphemy or apostasy.
आगे की चुनौती स्पष्ट है: मुसलमानों को अपने धर्म को आधुनिक बनाने में गुलामी , ब्याज और साथ ही कुछ अन्य मामलों में अपने साथी एकेश्ववरवादियों का पालन करना चाहिये। मुस्लिम शासन थोपने के लिये जिहाद के युद्ध को अब ना कहा जाये। आत्मघाती आतंकवाद को समर्थन न दिया जाये। गैर मुस्लिम के लिये अब द्वितीय श्रेणी की नागरिकता न रहे। व्यभिचार के लिये मृत्यु दंड न हो और महिलाओं की “ आनर किलिंग” न हो। ईशनिंदा के लिये या धर्मपरिवर्तन के लिये अब मृत्यु दण्ड न हो।

3.That violence stems from Islamic law, the Shariah, which insists that Islam, and the Koran in particular, enjoy a privileged status. Islam ferociously punishes anyone, Muslim or non-Muslim, who trespasses against Islam's sanctity. Codes in Muslim-majority states generally reflect this privilege; for example, Pakistan's blasphemy law , 295-C, punishes derogatory remarks about Muhammad with execution.
इस हिंसा का स्रोत इस्लामी कानून शरियत है जो कि इस बात पर जोर देता है विशेष रूप से इस्लाम और कुरान को विशेषाधिकार प्राप्त है। इस्लाम किसी भी ऐसे मुस्लिम या गैर मुस्लिम को बर्बरतापूर्वक दण्डित करता है जो कि इस्लाम की पवित्रता को लाँघने का प्रयास करता है। मुस्लिम बहुल देशों में सामान्य रूप से यह विशेषाधिकार परिलक्षित होता है, उदाहरण के लिये पाकिस्तान में ईशानिंदा कानून 295-c के अनुसार मुहम्मद के सम्बंध में अपमानजनक शब्द कहने वाले को मृत्युदण्ड दिया जाता है।

4.Islam's problem is less its being anti -modern than that its process of modernization has hardly begun. Muslims can modernize their religion, but that requires major changes: Out go waging jihad to impose Muslim rule, second-class citizenship for non-Muslims, and death sentences for blasphemy or apostasy. In come individual freedoms, civil rights, political participation, popular sovereignty, equality before the law, and representative elections.
इस्लाम की समस्या यह कम है कि वह आधुनिकता विरोधी है इसकी अधिक समस्या यह है कि यहाँ आधुनिकीकरण की प्रक्रिया आरम्भ नहीं हुई है। मुसलमान अपने धर्म को आधुनिक बना सकते हैं परंतु उसके लिये कुछ प्रमुख परिवर्तन करने होंगे- मुस्लिम शासन की स्थापना के लिये जिहाद छेड्ने का सिद्धांत त्यागना होगा, गैर मुसलमानों के लिये द्वितीय श्रेणी की नागरिकता और ईशनिन्दा या धर्मद्रोह के लिये मृत्युदण्ड भी त्यागना होगा। व्यक्तिगत स्वतंत्रता की बात करें, नागरिक अधिकार, राजनीतिक भागीदारी, लोकप्रिय सम्प्रभुता, विधि के समक्ष समानता और प्रतिनिधित्वकारी चुनाव।

5.Then, in 1989, Ayatollah Khomeini abruptly extended this double standard to the West when he decreed that British novelist Salman Rushdie be executed on account of the blasphemies in his book, The Satanic Verses . With this, Khomeini established the Rushdie Rules, which still remain in place. They hold that whoever opposes “Islam, the Prophet, and the Koran” may be put to death; that anyone connected to the blasphemer must also be executed; and that all Muslims should participate in an informal intelligence network to carry out this threat.
इसके बाद 1889 में अयातोला खोमैनी ने इस दोहरे मापदंड को अचानक पश्चिम की ओर बढाते हुए आदेश दिया कि सलमान रश्दी को उनके उनकी पुस्तक सेटेनिक वर्सेस के कुछ अंशों के लिये मृत्यु दंड दिया जाये। इसके साथ ही खोमैनी ने रश्दी नियम स्थापित कर दिया जो कि अभी तक जारी है। इस नियम के अनुसार वे मानकर चलते हैं कि जो भी, “ इस्लाम , पैगम्बर और कुरान का विरोध” करता है उसे मृत्युदंड दिया जाना चाहिये और अन्य जो भी इस निंदा के साथ सम्बद्ध हो उसे भी मृत्युदंड दिया जाना चाहिये और सभी मुसलमानों को इस धमकी को मूर्त रूप देने के लिये अनौपचारिक ढंग से गुप्तचर नेटवर्क के अंतर्गत शामिल होना चाहिये।

6.The person of Muhammad has acquired a saint-like quality among Muslims and may not be criticized, much less mocked. German orientalist Annemarie Schimmel pointed out (in her 1985 study on the veneration of Muhammad) that his personality is, other than the Koran, “the center of the Muslims' life.” Outrage among Muslims over insults to his person is sincere; note, for example, the notorious section 295-B of Pakistan's Criminal Code, which punishes any defamation of Muhammad, even if unintentional, with execution. These regulations have so much support that two prominent politicians, Salman Taseer and Shahbaz Bhatti, were assassinated in 2011 merely for voicing opposition to Pakistan's blasphemy laws. Their murders had nothing to do with the West and certainly were not diversions in a U.S. presidential campaign. Salman Taseer (L) and Shahbaz Bhatti, two prominent Pakistani politicians, were assassinated in 2011 for their opposition to blasphemy laws.
इस व्यक्तित्व को लेकर मुसलमानों के मध्य आक्रोश गम्भीर है: उदाहरण के लिये पाकिस्तान की अपराध संहिता का कुख्यात 295 बी मुहम्मद की किसी भी अवमानना को दन्डित करता है चाहे वह बिना आशय के ही क्यों न हो और दंड भी मृत्युदंड है। इन विनयमनों का इतना अधिक समर्थन है कि दो प्रमुख राजनेता सलमान तसीर और शाबाज भट्टी को 2011 में ईशनिंदा कानून के विरुद्ध बोलने के कारण मौत के हवाले कर दिये गये। उनकी हत्या का पश्चिम से कोई लेना देना नहीं था और न ही यह अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में ध्यान हटाने का प्रयास था।

7.The person of Muhammad has acquired a saint-like quality among Muslims and may not be criticized, much less mocked. German orientalist Annemarie Schimmel pointed out (in her 1985 study on the veneration of Muhammad) that his personality is, other than the Koran, “the center of the Muslims' life.” Outrage among Muslims over insults to his person is sincere; note, for example, the notorious section 295-B of Pakistan's Criminal Code, which punishes any defamation of Muhammad, even if unintentional, with execution. These regulations have so much support that two prominent politicians, Salman Taseer and Shahbaz Bhatti, were assassinated in 2011 merely for voicing opposition to Pakistan's blasphemy laws. Their murders had nothing to do with the West and certainly were not diversions in a U.S. presidential campaign. Salman Taseer (L) and Shahbaz Bhatti, two prominent Pakistani politicians, were assassinated in 2011 for their opposition to blasphemy laws.
इस व्यक्तित्व को लेकर मुसलमानों के मध्य आक्रोश गम्भीर है: उदाहरण के लिये पाकिस्तान की अपराध संहिता का कुख्यात 295 बी मुहम्मद की किसी भी अवमानना को दन्डित करता है चाहे वह बिना आशय के ही क्यों न हो और दंड भी मृत्युदंड है। इन विनयमनों का इतना अधिक समर्थन है कि दो प्रमुख राजनेता सलमान तसीर और शाबाज भट्टी को 2011 में ईशनिंदा कानून के विरुद्ध बोलने के कारण मौत के हवाले कर दिये गये। उनकी हत्या का पश्चिम से कोई लेना देना नहीं था और न ही यह अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में ध्यान हटाने का प्रयास था।

8.The planned building for the Abu Dhabi Islamic Bank, one of the world's largest no-interest financial institutions. Reformist Muslims must do better than their medieval predecessors and ground their interpretation in both scripture and the sensibilities of the age. For Muslims to modernize their religion they must emulate their fellow monotheists and adapt their religion with regard to slavery and interest, the treatment of women, the right to leave Islam, legal procedure, and much else. When a reformed, modern Islam emerges it will no longer endorse unequal female rights, the dhimmi status, jihad, or suicide terrorism, nor will it require the death penalty for adultery, breaches of family honor, blasphemy, and apostasy.
सुधारवादी मुसलमानों को अपने मध्यकालीन पूर्वजों से अच्छा करना होगा और अपनी व्याख्या धर्मग्रंथों और युगानुकूल संवेदना के संदर्भ में करनी होगा। यदि मुसलमान अपने मजहब को आधुनिक बनाना चाहते हैं तो उन्हें गुलामी, ब्याज , महिलाओं के साथ व्यवहार , इस्लाम को छोडने के अधिकार , कानूनी प्रक्रिया सहित अन्य मामलों में अपने साथी एकेश्वरवादियों का आचरण पालन करना होगा। जब एक सुधरा हुआ आधुनिक इस्लाम विकसित होगा तो यह महिलाओं के साथ असमानता का अधिकार , धिम्मी स्तर , जिहाद , आत्मघाती आतंकवाद सहित विवाहेतर सम्बन्धों के लिये मृत्युदंड , पारिवारिक सम्मान के लिये घात , ईशनिंदा और धर्म छोडने जैसे विषय समाप्त कर देगा।

9.We do so not because we support hateful speech, but because our Founders understood that without such protections, the capacity of each individual to express their own views, and practice their own faith, may be threatened. We do so because in a diverse society, efforts to restrict speech can become a tool to silence critics, or oppress minorities. We do so because given the power of faith in our lives, and the passion that religious differences can inflame, the strongest weapon against hateful speech is not repression, it is more speech - the voices of tolerance that rally against bigotry and blasphemy, and lift up the values of understanding and mutual respect. I know that not all countries in this body share this understanding of the protection of free speech. Yet in 2012, at a time when anyone with a cell phone can spread offensive views around the world with the click of a button, the notion that we can control the flow of information is obsolete. The question, then, is how we respond. And on this we must agree: there is no speech that justifies mindless violence.
रिपब्लिकन राष्ट्रपति प्रत्याशी मिट रोमनी ने सही ही कहा , “यह दुखद है कि ओबामा प्रशासन की प्रथम प्रतिक्रिया हमारे दूतावासों पर हुए आक्रमण की निन्दा करने की नहीं थी वरन वे उनके प्रति सहानुभूति रख रहे थे जिन्होंने आक्रमण किया” । इस तर्क के व्यापक परिणाम हैं चुनाव के लिये तो अधिक नहीं हैं( वहाँ ईरान प्रमुख विदेश नीति का मुद्दा है) परंतु क्योंकि ऐसी कमजोरी से इस्लामवादियों को पुनः आक्रमण करने की प्रेरणा मिलती है तथा वे इस्लाम की आलोचना को रोक पाते हैं और पश्चिम पर इस्लामी कानून या शरियत के एक आयाम को थोपने में सफल होते हैं।

10.(3) Is it pure coincidence that this Koran episode is so perfectly timed to follow the Newsweek and Guantánamo controversy? One can't but wonder if Basarudin, like at least seven other U.S. Muslims , is faking her own persecution. Or if, like its colleague CAIR , MPAC stokes anti-Muslim hate even where it does not exist. (5) The idea that a Muslim has the right, without proof, to accuse a non-Muslim of blasphemy, as Basarudin and MPAC have done, brings to mind the notorious anti-blasphemy laws in force in Pakistan . There, as the World Council of Churches explained in 2000, those laws “have become a major tool in the hands of extremists to settle personal scores against members of the religious minorities particularly Christians.” In the United States, the blasphemy accusation serves as the basis for a Jesse Jackson-like corporate shakedown (note MPAC's demand for Amazon to fund its programming).
इसके बाद वेल वेदर के स्वामी रिचर्ड रॉबर्टस ने अपनी प्रतिक्रिया दी और इस बात से इंकार किया कि उनके कर्मचारियों ने पुस्तक को विकृत किया तथा यह भी रेखांकित किया कि बार- बार बिकने वाली पुस्तकों में कुछ न कुछ लिखा ही रहता है .उनके कर्मचारी प्रतिदिन चार सौ पुस्तकें बेचते हैं इसलिए सबका बारीक निरीक्षण संभव नहीं है . उसने अज्जाबसरुद्दीन से माफी मांगते हुए कहा कि यदि कोई कर्मचारी कुरान को विकृत करते हुए पाया गया तो उसे बर्खास्त कर दिया जाएगा और उस पुस्तक के स्थान पर नई पुस्तक दी जाएगी . लॉस एंजेल्स टाइम्स के शब्दों में एक ऐसे अधिकारी की नियुक्ति का आश्वासन दिया गया जो आने वाली और बेची जाने वाली पुस्तकों की गुणवत्ता की सघन जांच करेगा .

  More sentences:  1  2
Definition
blasphemous behavior; the act of depriving something of its sacred character; "desecration of the Holy Sabbath"
Synonyms: profanation, desecration, sacrilege,

blasphemous language (expressing disrespect for God or for something sacred)


How to say blasphemy in Hindi and what is the meaning of blasphemy in Hindi? blasphemy Hindi meaning, translation, pronunciation, synonyms and example sentences are provided by Hindlish.com.