हिंदी
Login Sign Up
English-Hindi > epithet

epithet meaning in Hindi

sound:  
noun plural: epithets   
epithet sentence in Hindi
TranslationMobile
Noun
• गाली
• विशेषण

• विशेषक
• संकेतपद
Examples
1.It seems to me that the epithet is pompous and , as such , to be avoided . '
यह विशेषण मुझे आंडबरपूर्ण लगता है , इसलिए इससे बचना ही अच्छा होगा .

2.Hoever both respected each other a lot. Tagore gave Gandhiji the epithet of Mahatma.
लेकिन दोनों एक दूसरे का बहुत अधिक सम्मान करते थे टैगोर ने गांधीजी को महात्मा का विशेषण दिया था।

3.There are some names which have interesting sidelights on the transference of epithet : the melam and olaga are two such words .
कुछ नाम हैं जो विशेषण परिवर्तन पर प्रकाश डाल सकते हैं , मेलम तथा ओलगा ऐसे ही दो शब्द हैं .

4.Obviously , he did not despise a high style of living , or he could not have earned the epithet of ' prince ' .
जाहिर है उन्हें ऊंची जीवन शैली से कोई घृणा नहीं थी , अन्यथा उन्हें युवराज की उपाधि नहीं मिलती .

5.” It is also to be remembered that mere abusive epithets , declamations , invectives , turbid language will not necessarily bring the writing in question under condemnation .
' यह भी याद रखा जाना चाहिए कि सिर्फ अपमानजनक विशेषण , भाषण , भर्त्सना , अस्पष्ट वाक़्य इत्यादि विचारधीन लेखों के अनिवार्यत : नहीं बनाते .

6.Trinamool claims that Ghosh 's official car was found transporting weapons to the beleaguered Keshpur area in Midnapore , earning him the epithet of “ Arms Transport Minister ” .
तृणमूल का दावा है कि घोष की सरकारी कार मिदनापुर के संकटग्रस्त केशपुर इलके में हथियार ढोती पाई गई , जिससे उन्होंने ' हथियार परिवहन मंत्री ' की याति पाई है .

7.If there have been some examples of forced conversions , they are so rare as scarce to deserve mentioning , and only attempted by men who had not the fear of God and the Prophet before their eyes , and who in so doing have acted directly and diametrically contrary to the holy precepts and ordinances of Islam which cannot , without sacrilege , be violated by any who would be held worthy of the honourable epithet of Mussulman .
अगर जबरदस्ती से मजहब बदलने की कुछ मिसालें हुई हैं तो वह इतनी कम हैं कि काबिले जिक्र नहीं हैं.ऐसा करने की कोशिश सिर्फ उन लोगों ने की , जिनके मन में अल्लाह और पैगंबर का डर नहीं था और जिन्होंने ऐसा कर बेशक , इस्लाम की पाक हिदायतों और कानूनों के खिलाफ काम किया , क़्योंकि कोई भी इंसान मुसलमान होने की इज़्जतदार उपाधि के लायक समझा जाता है , इनको अपने मजहब की तौहीन किये बिना नहीं तोड़

8.If you want to conquer this difficulty -LRB- i.e . to learn First reason : Difference of the Language and its particular nature Sanskrit -RRB- , you will not find it easy , because the language is of an enormous range , both in words and inflections , something like the Arabic , calling one and the same thing by various names , both original and derived , and using one and the same word for a variety of subjects , which , in order to be properly understood , must be distinguished from each other by various qualifying epithets .
यदि आप इस कठिनाई पर विजय प्राप्त करना चाहते हैं ( अर्थात संस्कृत सीखना चाहते हैं ) तो यह भी आपके लिए सरल नहीं होगा , क़्योंकि इस भाषा का क्षेत्र शब्दों और रूप-रचना दोनों ही दृष्टि से बड़ा व्यापक है.यह कुछ-कुछ अरबी जैसी है जिसमें एक ही वस्तु का भिन्न-भिन्न नामों से पुकारते हैं-जिनमें मूल शब्द भी हैं और व्युत्पत्तियां भी-और विभिन्न प्रकार के विषयों के लिए एक ही शब्द का प्रयोग किया जाता है जिन्हें ठीक तरह से समझना हो तो उनमें भेद करने के लिए विभिन्न विशेषण जोड़ने होंगे .

9.His words, indeed, fit a much larger pattern of fusing socialism with fascism: Mussolini was a leading socialist figure who, during World War I, turned away from internationalism in favor of Italian nationalism and called the blend Fascism. Likewise, Hitler headed the National Socialist German Workers Party. These facts jar because they contradict the political spectrum that has shaped our worldview since the late 1930s, which places communism at the far Left, followed by socialism, liberalism in the center, conservatism, and then fascism on the far Right. But this spectrum, Jonah Goldberg points out in his brilliant, profound, and original new book, Liberal Fascism: The Secret History of the American Left from Mussolini to the Politics of Meaning (Doubleday), reflects Stalin's use of fascist as an epithet to discredit anyone he wished - Trotsky, Churchill, Russian peasants - and distorts reality. Already in 1946, George Orwell noted that fascism had degenerated to signify “something not desirable.”
उदार फासीवाद विरोधाभासी लगता है या फिर ऐसी शब्दावली है जिसका प्रयोग परम्परावादी उदारवादियों को अपमानित करने के लिए करते हैं। वास्तव में इसे एक सम्मानित और प्रभावशाली वामपंथी एच - जी वेल्स ने ध्वनित किया था जब 1931 में उन्होंने अपने साथी प्रगतिशीलों से कहा कि वे उदार फासीवादी और ‘ ज्ञानवान नाजी बने '। वाकई

10.In what looks like a contradiction to me, Markham and Ozdemir simultaneously present Globalization, Ethics and Islam as a “corrective” to my worldview, then acknowledge that the book “partly agrees” with me in two respects: that Turkey can provide a model for relations with the West and that “there is a problem with militant Islam.” How can this be if my work is vitriolic, distortive, misrepresentational, and faulty? Fewer epithets and more specifics would enhance the discussion. Also inconsistent is their bewailing my belief that the Muslim world needs more secularism, then warning that “If we allow ourselves to be infected by the Pipes worldview, then perhaps we are in for a long, desperate battle between Islam and the West.” Secular Muslims states would engage in a jihad against the West? Try to figure that out.
पुस्तक में विरोधाभास के दर्शन तब होते हैं जब मारखम , ओजदमीर ग्लोबलाईजेशन , इथीक्स एंड इस्लाम भाग को मेरी विश्व दृष्टि की समीक्षा के संदर्भ में प्रस्तुत करते हैं और फिर पुस्तक के कुछ भाग से अपनी स्वीकृति भी जताते हैं .तुर्की इस्लाम के पश्चिम के साथ रिश्तों के लिए एक मॉडल है और कट्टरपंथी इस्लाम के भीतर कुछ समस्या है . इन दोनों विषयों से लेखक सहमत हैं.यदि मेरी पुस्तक कड़वाहट से भरपूर , तथ्यों को तोड़ने मरोड़ने वाली भ्रामक और गलत है तो फिर उससे सहमति कैसी .विशेषताओं का कम वर्णन और कुछ विशेष संदर्भों की अधिक चर्चा तो बात बढ़ाने जैसा है .मेरी इस धारणा पर कि मुसलमानों को और अधिक सेक्यूलर होने की आश्यकता है उनका दुखी होना उनकी अस्थिरता को दर्शाता है . वे चेतावनी देते हैं कि यदि हम पाईप्स की विश्व दृष्टि से प्रभावित हुए तो हमें इस्लाम और पश्चिम के मध्य लंबी और हताश करने वाली लड़ाई के लिए तैयार रहना चाहिए . सेक्यूलर मुस्लिम राज्य भी पश्चिम के साथ जेहाद में कूद पड़ेंगे उन्हें पहचानने की कोशिश करो.

Definition
a defamatory or abusive word or phrase
Synonyms: name,

descriptive word or phrase


How to say epithet in Hindi and what is the meaning of epithet in Hindi? epithet Hindi meaning, translation, pronunciation, synonyms and example sentences are provided by Hindlish.com.